मामी बनी मेरी चुदक्कड़ बीवी

0
Loading...

प्रेषक : करन …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम करन है और मेरी उम्र 20 है। दोस्तों में सेक्स करने में बहुत रूचि रखता हूँ और में कामुकता डॉट कॉम पर सेक्सी कहानियाँ पढ़कर बहुत मज़े करता हूँ। दोस्तों मेरे साथ यह घटना कुछ साल पहले घटित हुई और यह मेरी मामी के साथ घटी। मेरी मामी बेहद सुंदर, हॉट, सेक्सी और चालाक है। मेरे मामा और मामी की शादी तब हुई थी जब में शायद 4 या 5 क्लास में पढ़ता था, उनकी शादी के बाद में वहां पर उनके साथ कई दिनों तक रहा और वो मुझे अपने साथ कमरे में भी सुला लेते थे और वो मेरे बहाने एक दूसरे से प्यार की बातें किया करते थे और एक दूसरे को इशारे करते थे। दोस्तों एक रात जब में उनके कमरे में सोया तो रात को मुझे पेशाब आ गया तो में नींद में उठकर टॉयलेट की तरफ चला और जब में लौटकर वापस आया और जो मैंने उस समय देखा तो में देखकर एकदम हैरान हो गया, क्योंकि उस उम्र में मुझे सेक्स के बारे में कुछ भी पता नहीं था। मैंने देखा कि मेरे मामा और मामी दोनों पूरे नंगे होकर एक दूसरे से चिपककर सो रहे थे, मेरी मामी के गोल गोल बूब्स और एकदम साफ और गुलाबी चूत मुझे नज़र आ रही थी और उस समय मेरे मामा भी पूरे नंगे थे और मामी के पीछे से चिपककर अपना लंड उनकी चूत में डालकर सो रहे थे। अब में उन्हें इस तरह देखकर बहुत हैरान था, लेकिन तब तक मुझे सेक्स के बारे में कुछ भी पता नहीं था तो मैंने उन दोनों पर एक चादर उठाकर डाल दी और फिर में भी सो गया। दोस्तों मैंने आज पहली बार एक जवान लड़की और लड़के को नंगा देखा था।

फिर सुबह में उठकर दूसरे कमरे में चला गया और तब तक वो दोनों उठकर तैयार हो चुके थे और फिर धीरे धीरे समय निकलता गया और अब मेरी अपनी मामा के साथ बहुत अच्छी बात होने लगी, में अक्सर अपने स्कूल की छुट्टियों में उनके यहाँ पर जाता और पूरा दिन मामी के साथ रहता और अब मेरा मामी के साथ बहुत प्यार बन गया था तो वो भी मुझसे अब बहुत सारी बातें शेयर करने लगी और जब में बड़ा हुआ तो वो मुझसे मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछती तो में उन्हें मज़ाक में कहता कि आप हो ना तो वो कहती क्यों? तो में कहता कि में आपसे हर एक बात शेयर करता हूँ तो वो हंस दी और मेरी हाँ में हाँ मिलाती और वैसे मैंने उन्हे अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में सब कुछ सच बता रखा था, में उनसे अपनी बहुत सारी बातें करता और वो भी मुझे अपनी बहुत सारी बातें बताती थी। वो अपनी लाईफ से बहुत खुश थी और इस दौरान उनको एक लड़का हुआ, जिसके साथ में बहुत खेलता था और बहुत मस्ती करता था। फिर धीरे धीरे जब मुझे सेक्स के बारे में पता चला तो मुझे वो रात याद आई और मेरे समझ में आया कि उस दिन मामा और मामी नंगे क्यों थे? सेक्स के बारे में जानने के बाद मेरा भी मन सेक्स करने को करता है और फिर एक बार में अपने मामा के घर गया तो वहां मेरे पहुंचने के बाद मामा अपनी नौकरी के सिलसिले में इंडिया से बाहर जाने की बात हुई और उन्हें जुलाई में बाहर जाना था। फिर उन दिनों मामी बहुत उदास रहने लगी, लेकिन वो बहुत खुश भी थी, क्योंकि मामा पहली बार काम के सिलसिले में बाहर जा रहे थे और में अपनी मामी के साथ बिल्कुल अकेला रहने वाला था और अब में उनके साथ रहकर बहुत अच्छा महसूस कर रहा था। फिर मैंने अपनी मामी से उनकी उदासी का कारण पूछा तो उन्होंने यह कहकर टाल दिया कि तुम अभी छोटे हो और तुम्हे इन बातों के बारे में इतना पता नहीं है, तुम नहीं समझोगे। फिर मैंने कहा कि जिसकी एक गर्लफ्रेंड हो वो क्या कोई छोटा होता है? में सब कुछ समझता हूँ, लेकिन आप ही मुझे बताना नहीं चाहती तो उन्होंने कहा कि तुम तो जानते ही हो कि तुम्हारे मामा को एक महीने के लिए बाहर जाना है तो वो जाने की तैयारी में मेरे साथ समय ही नहीं बिता पाते है और वो पूरे दिन भर ऑफिस और रात को जाने की तैयारी में लगे रहते है। फिर मैंने मामी से कहा कि आप मेरे साथ अपना समय बिता लिया करो तो वो मेरी यह बात सुनकर ज़ोर से हंस दी और मुझे पागल कहने लगी।

दोस्तों पहले तो मुझे कुछ भी समझ नहीं आया, लेकिन फिर कुछ देर बाद मेरे दिमाग़ की बत्ती जली और मेरे समझ में आया कि मामी क्या बात कर रही थी? और उस दिन से पहले मेरे दिमाग़ में मामी के लिए कोई भी ग़लत सोच नहीं थी, लेकिन उस दिन से और मामी की उस हँसी को देखने के बाद मेरा मन अचानक से बदल गया और में मामी के बारे में सोचने लगा, क्योंकि वो थी ही इतनी सेक्सी कि जो कोई उन्हें देख ले तो बस पागल हो जाता था। अब मेरी हालत भी उस दिन के बाद ऐसी हो गई। मेरे पेपर खत्म हुए और मामाजी की फ्लाइट भी अगले सप्ताह थी और अब मेरी गर्मी की छुट्टियाँ भी शुरू हो गई थी तो मामा ने मुझे वहां पर बुला लिया था।

फिर मेरा अपनी मामी को लेकर झुकाव बहुत बड़ चुका था तो मैंने बहुत बार उनके बारे में सोचकर मुठ मार लेता था और उनको लेकर अब मेरी सोच बिल्कुल बदल चुकी थी, अब में उन्हें अब सेक्सी और गंदी नज़र से देखने लगा, ज्यादा गर्मी होने की वजह से वो अब अपने कपड़ो में ज्यादा गहरे गले के कपड़े पहनने लगी थी, जिस वजह से उनकी छाती और मोटे मोटे बूब्स का पूरा सेक्सी हिस्सा मुझे देखने को मिलता था और जिसे देखकर मेरा लंड खड़ा होकर हर कभी तन जाता था। एक दिन में उनके पास बेड पर बैठा हुआ था तो वो मेरे पास आकर कुछ लेने के लिए जैसे ही नीचे झुकी तो मेरी नज़र उनके बूब्स पर पड़ी तो मेरा लंड मेरी आधी पेंट में आधा तन गया और मैंने उस दिन अंडरवियर नहीं पहना हुआ था। अब मामी उसे देखकर मुझे देखने लगी तो में एकदम से घबरा गया और आँखें झुकाकर दूसरी तरफ घूम गया। दोस्तों मुझे पहले ही पता था कि वो रात को ब्रा, पेंटी नहीं पहनती है और वो उन्हें बाथरूम में लटकाकर आती है तो में हर रोज टॉयलेट के बहाने उनकी ब्रा, पेंटी चूसने और चाटने जाता था और बाद में शाम को जब वो मेरे सामने आई तो मैंने देखा कि उनके चेहरे पर एक अज़ीब सी शरारती हँसी थी।  फिर मुझे कुछ दाल में काला लगने लगा और मुझे वो काली दाल बहुत अच्छी लगी और दो दिन बाद हम मामाजी को फ्लाईट तक छोड़कर सुबह वापस आ गए और उसी शाम को सब लोग अपने घर पर चले गये, लेकिन में वहीं पर रुक गया, क्योंकि अब मामी जी घर पर अपने बेटे के साथ अकेली थी और मामा जी भी मुझसे बोलकर गये थे कि कुछ दिन मामी के पास रुक जाना और उस समय मेरी छुट्टियाँ थी तो में भी रुक गया। वैसे मेरे शैतानी दिमाग़ में वहां पर रुकने को लेकर कुछ और ही था, ज्यादा थकान के कारण मामी दूसरे कमरे में जाकर सो गई और उन्होंने अपने बेटे को भी सुला दिया और में भी ए.सी. वाले कमरे में जाकर सो गया और उस रात में सिर्फ़ अंडरवियर में सो गया, क्योंकि उस समय रूम में मेरे अलावा कोई भी नहीं था और जब में सुबह उठा तो देखा कि रूम का दरवाजा खुला हुआ था और सुबह तक मेरा लंड भी तना हुआ था और जैसा कि हर सुबह होता है। फिर मैंने जल्दी से कपड़े पहने और तैयार होने चला गया और मुझे लगा कि रात को कोई मेरे रूम में आया था, लेकिन घर पर मेरे मामी और उनके बेटे के अलावा कोई भी नहीं था तो मुझे यह भी अच्छी तरह से पता था कि उनका बेटा दरवाज़ा अकेले नहीं खोल सकता था। फिर मेरा शक मामी पर गया जो कि मेरे लिए एक बहुत खुशी की बात थी कि मामी ने मुझे नंगा देख लिया है।

Loading...

फिर में बाहर गया तो मामी ने मुझे नाश्ता बनाकर दिया और में खाने लगा तो मामी ने मुझसे पूछा कि रात को नींद अच्छी आई या नहीं? फिर मैंने कहा कि हाँ सोने में बहुत मज़ा आया तो वो बोली कि हाँ वैसे रात को बहुत गर्मी थी तो वो भी ए.सी. वाले रूम में आकर सो गई थी और अब वहां पर मेरा शक पूरा यकीन में बदल गया कि मामी ही रात को रूम में आई थी और उन्होंने हंसते हुए मुझसे कहा कि तुम्हे रात को बार बार हिलने की आदत कब से पढ़ गयी? फिर मैंने जानबूझ कर कहा कि यह तो मुझे बचपन से है। फिर उन्होंने मुझसे कहा कि मेरी शादी के समय पर तो नहीं थी तो मैंने कहा कि में तो आज तक आप लोगों के साथ एक रूम में सोया ही नहीं और पूछा कि आप कब की बात कर रहे है? तो वो चुप रही और में भी कुछ नहीं बोला और वैसे मुझे नींद में हिलने वाली बात पहली बार पता चली थी और मुझे यह भी पता था कि एक लड़की दो बातों को ज़रूर ध्यान देगी और शादी वाली बात बहाना था।

फिर में अब मन ही मन बहुत खुश था और अब मैंने मामी को मुस्कुराते हुए कहा कि वो ए.सी. वाले रूम में सो जाया करे और में दूसरे रूम में सो जाऊंगा, लेकिन वो कहने लगी कि अगर ज़रूरत पड़ेगी तो वो आ जाएँगी। फिर रात को मैंने सोने के लिए सिर्फ़ छोटी सी पेंट और सिर्फ़ बनियान पहना हुआ था और फिर में सोने का नाटक करने लगा और कुछ देर बाद मामी अपने बेटे को लेकर आई और रूम में सुला दिया। मेरे मन में अब अपनी मामी को लेकर लड्डू फूट रहे थे। फिर मैंने थोड़ी सी आँख खोलकर देखा कि मामी ने जालीदार टी-शर्ट और पजामा पहना हुआ था और जिसमें उनकी निप्पल, बूब्स और चूत बहुत हद तक दिखाई दे रहे थे और मेरा लंड खड़ा होने लगा था, लेकिन में किसी तरह कंट्रोल करने लगा और मेरा मन कर रहा था कि मामी को अभी पकड़ लूँ, लेकिन डर रहा था और मेरा प्लान भी तो था। फिर मामी बेड पर लेट गई और मैंने ए.सी. का पूरे तापमान पर कर रखा था। कुछ देर बाद मैंने नींद में हिलने का नाटक किया और जैसा मामी ने कहा था और मैंने उनकी टी-शर्ट के ऊपर से बूब्स पर हाथ रख दिया और अपने पैरों को उनके पैरों के बीच में रखकर हिलाने लगा तो उन्होंने एकदम आँखें खोली और मैंने अपनी आँखें बंद कर ली तो उन्हें मुझे सोता हुआ समझकर कोई विद्रोह नहीं किया और ना ही मुझे साईड किया। फिर में समझ गया कि वो भी यही चाहती है और में अब उनके पूरे बदन पर हाथ पैर लगाने लगा तो वो ज़ोर ज़ोर से साँसे भरने लगी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर में धीरे से उनके पास गया और फिर जो मेरे साथ हुआ उससे में बिल्कुल हैरान हो गया। उन्होंने मुझे किस किया और मेरे कान में बोली कि पागल अब आँखें खोल ले। फिर मैंने बिल्कुल चकित होकर अपनी आँखें खोली, क्योंकि में उनकी इस बात से बहुत हैरान हो गया था और फिर उन्होंने मुझे बताया कि उन्होंने मेरे नींद में हिलने वाली बात बिल्कुल झूठ कही थी और कहा कि उन्होंने कल मेरे लंड को भी चूसने की कोशिश की थी। दोस्तों अब में उनके मुहं से यह सब बातें सुनकर बहुत हैरान, परेशान था और वो मुझसे कहने लगी कि पागल रुक मत और में लगातार करता रहा। फिर तो जैसे मेरा सपना पूरा होने लगा और मैंने मामी को किस करना शुरू किया और कभी स्मूच तो कभी फ्रेंच किस में उनके पूरे चेहरे पर किस करता रहा और कम से कम 15 मिनट तक वो भी मेरा पूरा पूरा साथ देती रही और फिर मैंने उनके गोल गोल बूब्स को दबाना शुरू किया और धीरे धीरे उनकी टी-शर्ट को उतार दिया। दोस्तों मैंने इतने सुंदर, मोटे बूब्स, कभी नहीं देखे थे और यह अब उनकी शादी के समय से बहुत बड़े हो गये थे।

Loading...

फिर मैंने एक निप्पल को चूसना शुरू कर दिया और दूसरे को दबा रहा था, इस दौरान मामी मुझे अपनी तरफ दबा रही थी और ज़ोर ज़ोर से कह रही थी हाँ चूसो और ज़ोर से मेरे पति देव और कह रही थी कि तुम तो अपने मामा से भी ज्यादा अच्छे बूब्स चूसते हो। फिर मैंने उनकी यह बात सुनकर अब और भी तेज करना शुरू कर दिया और मैंने दोनों बूब्स को बहुत देर तक चूसा जब तक कि वो पूरे लाल नहीं हो जाये और उनका बहुत सारा दूध भी पिया। फिर मैंने उनके ऊपर आकर उनके जिस्म को चाटना शुरू कर दिया और अब मेरे एक हाथ लगातार उनकी चूत को सहला रहा था और जिस वजह से उनकी चूत अब बिल्कुल गीली हो चुकी थी। उन्होंने मेरी बनियान को उतार दिया और फिर से मुझे अपनी तरफ खींचकर अपने बूब्स को मेरी छाती पर दबाने लगी और किस करने लगी। दोस्तों अब में जो कुछ भी काम कर रहा था तो वो मेरी कल्पना से ही बाहर था। फिर मैंने उनका पजामा नीचे किया तो में यह देखकर बहुत हैरान था कि मामी की चूत एकदम साफ थी और उसमें से बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी और वो बहुत गुलाबी थी, लेकिन कल जब तक मैंने मामी की पेंटी को देखा तो तब उसमें से मुझे बाल भी मिले थे तो में समझ गया कि यह सब साफ सफाई सिर्फ़ मेरे लिए थी और में वो सभी बातें सोच सोचकर मन ही मन बहुत खुश था और अपनी मामी को भी मन से धन्यवाद दे रहा था। फिर मेरे सहलाने की वजह से उनकी चूत गीली हुई थी तो मैंने उसे चाटकर साफ कर दिया और अब चूत को जीभ से चाटने, चूसने लगा, क्या मस्त मज़ा आ रहा था एकदम मदहोश कर देने वाला, क्योंकि मुझे ऐसा मौका कभी नहीं मिला था, लेकिन मेरे दस मिनट चूसने के बाद वो झड़ गई और मैंने सब कुछ चाटकर साफ कर दिया। फिर उन्होंने मुझसे कहा कि मेरे पति देव तुम बहुत अच्छे हो और अब प्लीज चोद दो मुझे, में कब से इसको अपने अंदर लेने के लिए तड़प रही हूँ? फिर मैंने उन्हें उठाया और फिर उनका पूरा पजामा उतार दिया और अब में देखकर बिल्कुल हैरान था कि मामा ने मामी की गांड को भी बहुत बार चोदा है, क्योंकि वो बहुत बड़ी थी और उनकी चूत भी उभरी हुई थी।

अब वो एक बार फिर से मेरी आधी पेंट के ऊपर से मेरा लंड को जो कि अब उनका बाबू हो गया था, उसे सहलाने लगी और पेंट के ऊपर से ही चाटने लगी और में उन्हें मेरे साथ यह सब करते देखकर बहुत खुश था, उन्होंने मेरी पेंट को उतारा और फिर मेरे तनकर खड़े लंड को देखकर बोली कि जान तेरा तो तेरे मामा से भी ज्यादा बड़ा है। फिर में उनके मुहं से यह बात सुनकर बहुत खुश हो रहा था और फिर उन्होंने मेरे लंड को करीब 15 मिनट तक चूसा और वो बिल्कुल किसी रांड की तरह मस्त होकर मेरे लंड को लोलीपॉप समझकर चूस रही थी। फिर मैंने उन्हें अपनी गोद में उठाया और बेड पर लेटाया तो वो बिल्कुल फूल की तरह हल्की लग रही थी और फिर में उन पर चड़ गया और उन्हें किस करने लगा। फिर मैंने धीरे धीरे अपने लंड के सुपाड़े को उनकी चूत पर सहलाना शुरू किया और फिर एक जोरदार धक्का मारकर अंदर डालने के कोशिश की, लेकिन मोटा होने की वजह से जा नहीं रहा था तो फिर मैंने मामी से क्रीम ली और लंड और चूत पर लगाकर लंड को एक बार फिर से डालने की कोशिश करने लगा, लेकिन अब बहुत प्यार से, क्योंकि में उन्हें बहुत प्यार करता था और वो मुझे पति देव कहती थी।

फिर करीब आठ दस धक्को के बाद मेरा लंड उनकी चूत के अंदर चला गया। फिर मैंने उनको करीब एक घंटे तक लगातार चोदा और वो इस चुदाई के दौरान करीब चार पांच बार झड़ चुकी थी और फिर ए.सी. की ठंड के कारण हम दोनों भूल गये और में उनके बीच ही झड़ गया और में उनके ऊपर ही बिल्कुल नंगा ही सो गया और फिर में दूसरी सुबह करीब दस बजे उठा और मामी को मैंने पत्नी जी कहकर उठाया और हम दोनों एक साथ नहाए और मैंने मामी की माँग भरी मंगलसूत्र पहनाया और फिर में बाहर से खाना ले आया और में जब तक वहां पर रहा तब तक हमने हर दिन, हर समय अपनी सुहागरात मनाई। फिर मामी ने मुझसे मुस्कुराते हुए कहा कि मेरे पति देव आपने तो अपने मामा जी को भी पीछे छोड़ दिया। फिर मैंने उन्हें किस किया और उसके पांच महीने के बाद मुझे पता चला कि मेरी मामी अब गर्भवती हो गई है और में यह बात सुनकर बहुत खुश हुआ ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!


भया ओर भाभी की साकसि कहानीMammy ko jhate saaf karte hue dekhabeithe beithe gardan aur bahen akad kyu jatiवो प्यार की भूखीsex story hindi fontwww हिँदी सेकस कथा.comwww hindi sexi storysex lambi stories hindiमम्मी बहन भाभी और पेटीकोट मे चुदाईशदि मे चुदाइबुआ और बेटी की चुदाईhindisxestoreबेटा मेरी गांड मत मारो मै तुम्हारी मम्मी हु सेक्स स्टोरीजप्यासी आंटी को टेल लगायाdade ke bde bde gand sexystoreammi ka randipanamast bur chodi kaisexy khane handi me.comwww.गाडीत लंड कथा.comhindi sexstore.cudvanti kathaDidi se chudai gift hindisexestorehindeशादीसुदा दीदी की जिद पूरा कियाkhade khade sabke samne choda hinde sex storyभुत धोखा से चोदा दीदी को हिंदी कहानीमेरी बीवी को चोद चोद कर मूत करा दिया मादरचोदों नेमाँ बेटी क बूब्स सिनेमा हॉल मेंKamkuta.comDidi ki nanad or uski saas ki painty sunghaपैन्ट की ज़िप खोल दी. उसके लंडhinde sex khaniamaa ke hontho me hont hindi sex kahaniya freenaram jhanto pe hath lagaसेकसी कहनीयाsexy sex story hindiDosto ne mammi ki jbrjsti se chudai kiमोती चाची सुहागरातबहन की चुदाई फेसबुक पर डाला चूत मारने के साथ छोड़ाhindi sexy atoryआँखों के सामने दीदी की चुदाईमामू ने छोटी बहन के चूत फाङी जबरदस्ती दीदी और माँ की एक साथ चूदाई की कहानीsasu ki bimari ke bahane chudaedidi ko taange faila kar mootaमाँ को चोदकर खुश कियामम्मी की गाँड का हलवा खाया चुदायी की सेक्स स्टोरीचोदाई की नौकरीचाची ने नीद का नाटक किया मालिश अंधेरे में करवाईnanand ko sikhaya chut kese chodi jaegi suhagrat meभाई की रंड़ी बन गईचुद गई रिक्शेवाले सेभाभी पेटीकोट मे बेड मालिशHinde sex kahani Daru pelakar chudieघर मे चुके से चुत देखता बेटामामी बोली कंडोम से चोद मुझेचुपके से रात मेँ सगी दीदी का दूध दबायाठंढ मे सोने के बहाने चुदायी.ma boli aram se chut mar meribahan ko janmdin par coda kahaniआआआआहह।Jhat.aunti.chudai.kahaniyawww.bua ki fati bur ki cudai hot sexi stori.comबेटी मेरी तरह तू भी लंड की मलाई खाने की आदत डाल लेबालकनी मे मम्मी की चुदाई रोने लगीआज चुदूंगीhindhi sex storiसेक्सी कहाणी हिन्दी मेमोशा जी ने मस्ती से चोदादादी को चोदा बस मेfree sex stories in hindini tu vala vagu char gae ru dea rukha taSex storys in hindy porn.com.