पति पत्नी और में

0
Loading...

प्रेषक : करण …

हैल्लो दोस्तों, में गुजरात के एक शहर का रहने वाला हूँ, में 20 साल पहले मुंबई 3 साल रहा था और फिर अपने शहर वापस चला गया था और अब 6 साल से मुंबई में आकर फिर से बसा हूँ। लेकिन जब में 20 साल पहले मुंबई में था तो तब मुझे एक लड़की से प्यार हुआ था, उसका नाम कविता है, वो बेहद खूबसूरत थी और आज तो 38 साल की उम्र में भी काफ़ी खूबसूरत दिखती है, उसका वजन करीब 55 किलोग्राम होगा, उसका फिगर भी अच्छा है। हम दोनों एक साथ काफ़ी घूमे फिरे थे, लेकिन शादी से पहले उससे सेक्स नहीं किया था, हाँ किस्सिंग और बूब्स दबाना काफ़ी किया था।

फिर मुझे मेरी रिश्तेदारी में चला जाना पड़ा तो वहाँ मुझे अपनी फेमिली की पसंद की लड़की से शादी करनी पड़ी और कविता ने भी शादी कर ली, लेकिन हम दोनों फोन पर मिलते रहते थे। में जब भी मुंबई जाता था, तो वो मुझसे जरूर मिलती थी। अब कविता ने उसके पति सुनील से भी मेरी दोस्ती करवा दी थी। उसने सुनील को उसका दोस्त बताया था, वो मुझसे प्यार करती थी ऐसा नहीं बताया था। वैसे सुनील ब्राड माइंडेड है, अब में और सुनील भी अच्छे दोस्त बन गये है। अब में तो अक्सर उन लोगों के घर जाता हूँ और सुनील घर पर नहीं रहता है, तो भी में जाता हूँ। वैसे जब में फिर से मुंबई में आकर बसा तो तब से मेरी और कविता की मुलाक़ते बढ़ती गयी थी और हमारे बीच सेक्षुयल रिलेशन भी बन गया था, पहली बार कैसे सेक्षुयल रीलेशन बने? वो में आपको बाद में बताऊंगा।

फिर उसके बाद में सुनील को भी पता चल गया कि में कविता का एक्स-लवर हूँ और हम दोनों के बीच में सेक्षुयल रीलेशन है लेकिन फिर भी वो नॉर्मल बर्ताव करता था। अब में और कविता भी ये छुप-छुपकर सेक्षुयल प्यार करने से थक चुके थे। फिर हमने डिसाइड किया कि हम सुनील को सब बता देंगे, लेकिन कैसे कहे? वैसे सुनील काफ़ी अच्छा आदमी है, वो नॉर्मल लेगा, उसे हम पर काफ़ी भरोसा था और शायद उसे पता भी हो ऐसा हमे शक था, लेकिन सामने से बताना मुश्किल था। अब हम जो चाहते थे, वो सुनील ने ही एक दिन किया। फिर एक दिन रात को उसने मुझे उसके घर पर बुलाया। मेरी फेमिली अपने रिश्तेदार में कही गयी थी तो मैंने उसे बताया, तो उसने रात को डिनर एक साथ लेने को कहा।

फिर में करीब 9 बजे उसके घर पहुँचा, वो घर पर ही था और कविता खाना बना रही थी। फिर मैंने और सुनील ने थोड़ी देर बैठकर बातें की। फिर कविता भी ड्राईग रूम में आ गयी, वैसे सुनील का 3 रूम और 1 छोटा स्टोर रूम का फ्लेट है। फिर थोड़ी देर तक बातें करने के बाद सुनील ने कहा कि चलो आज ड्रिंक लेते है, में और सुनील बार में तो कई बार एक साथ ड्रिंक ले चुके है, कविता का पता नहीं था वो भी अब कभी-कभी लेती है। फिर कविता 3 गिलास और 2 बोतल, पानी, कोल्डड्रिंक्स और आइस बॉक्स लेकर आई और सब कुछ बीच में टेबल पर रखा और कुछ नमकीन और काजू भी ले आई। फिर कविता ने 3 बड़े-बड़े पैग बनाए और चियर्स करके शुरू हो गये। अब एक सोफे पर में और सुनील बैठे थे और दोनों साईड एक-एक सोफा रखा था। अब मेरी साईड के सोफे पर कविता बैठी थी, कविता ने स्लीवलेस नाइटी पहनी हुई थी, उस पर नाइटी काफ़ी खुलती थी, उसकी नाइटी के साईड से उसके बूब्स साफ-साफ़ दिखते थे, कहते है कि दिल की बात खुलकर ना कह सके या किसी से कुछ कहना हो, या सुनना हो तो शराब के नशे में सब बाहर आ जाती है।

अब मैंने और सुनील ने 3 पैग पी लिए थे और कविता ने अपना 1 पैग भी पूरा नहीं किया था। अब हमारा चौथा पैग शुरू था, अब में कविता को देख रहा था और साईड से उसके बूब्स को भी देख रहा था। अब सुनील साईड में बैठे हुए मुझे देख रहा था, फिर वो अचानक से बोला कि अरे तुम मेरी बीवी को ही देखोंगे कि मुझसे बात भी करोगे। अब में नशे में था लेकिन में फिर भी अलर्ट हो गया और सुनील के सामने देखा, अब वो हंस रहा था। फिर सुनील मेरी जांघ पर अपना एक हाथ रखकर बोला कि में सब जानता हूँ और फिर वो आगे बोला कि आख़िर तुम लोगों का पुराना प्यार है, कहते है कुछ भी हो पहला प्यार कभी भुला नहीं जाता है (वैसे तो लाईफ में कभी भी सच्चे दिल से किया प्यार भुला नहीं जाता) अब मेरे समझ में कुछ नहीं आया था कि में क्या कहूँ? फिर वो बोला कि मैंने काफ़ी टाईम पहले तुम दोनों को सेक्षुयल प्यार करते हुए देख लिया था। अब में और कविता उसे देख ही रहे थे।

फिर वो बोला कि अरे ये क्या? ड्रिंक शुरू रखो, तुम दोनों मुझे ऐसे क्या देख रहे हो? अब वो हंस भी रहा था और नॉर्मल भी था। फिर उसने आगे कहा कि मैंने कविता की बातों से जान लिया था कि तुम दोनों के बीच में प्यार था और वो आज भी बरकार है। अब कविता नशे में नहीं थी, उसने अपना 1 पैग भी पूरा नहीं किया था। फिर कविता बोली कि सुनील में तुम्हें भी इतना ही प्यार करती हूँ, डियर मैंने आज तक तुम्हें हर्ट नहीं किया। तो सुनील ने कहा कि में जनता हूँ और कविता में तुम्हें भी इतना ही प्यार करता हूँ, मैंने जब तुम दोनों को सेक्स करते हुए देख लिया था और तुम करण के साथ मुझसे भी ज़्यादा खुश होकर सेक्स कर रही थी, फिर मैंने जानने की कशिश की तो मुझे तुम दोनों के प्यार के बारे में पता चला तो मैंने रुकावट नहीं करने का फ़ैसला किया था। अब में तो कुछ बोल ही नहीं पा रहा था, अब मेरा नशा भी गायब हो गया था।

फिर थोड़ी देर सन्नाटा सा रहा, अब हम चुपचाप ड्रिंक ले रहे थे। फिर सुनील बोला कि भी नॉर्मल माई डियर करण, वैसे मुझे भी तुम दोनों का प्यार का ये सेक्षुयल खेल देखने में मज़ा आता है, में आज तक छुप-छुपकर देखता था, लेकिन आज से में सामने बैठकर देखूँगा, मेरा प्यार कविता के लिए हमेशा ही बरकार है और मेरी और कविता की सेक्स लाईफ खराब भी नहीं होगी बल्कि हमारी सेक्स लाईफ में और नयापन आएगा। फिर वो उठा और साईड के खाली सोफे पर बैठकर कविता को मेरे पास बैठने को कहा। तो कविता उठकर मेरे पास बैठ गयी, अब वो शर्मा रही थी। तो वो बोला कि डियर चिंता मत करो में कह रहा हूँ ना तुम दोनों को अपना प्यार छुपाने की कोई जरूरत नहीं है, तुम मेरे सामने खेलो, फिर में भी जॉइन हो जाऊंगा। फिर उसने मुझसे कहा कि करण नॉर्मल और आगे बढ़ो। अब हमारे 3-3 पैग ख़त्म हो चुके थे और सुनील ने दूसरी बोतल को खोल दिया था। फिर चौथा पैग सुनील ने अपने हाथों से हम दोनों के लिए बनाया और एक छोटा पैग कविता के लिए बनाया।

Loading...

अब में काफ़ी एग्ज़ाइटेड भी था, अब जो हम लोग चाहते थे वो दूरी सुनील खत्म कर रहा था। फिर कविता ने मेरे सामने देखा, तो मैंने कविता को किस कर लिया। अब सुनील हम दोनों को देख रहा था और नॉर्मली हंस रहा था। फिर कविता ने भी किसिंग में मेरा साथ दिया और बोली कि पहले डिनर ख़त्म कर लो, फिर देखते है। तो सुनील ने कहा कि हाँ ये ठीक है और कविता भी फ्री हो जाएगी। फिर 5 पैग ख़त्म करने के बाद हमने साथ-साथ खाना खाया। फिर में और सुनील आकर सोफे बैठकर नॉर्मल बातें करने लगे। अब कविता भी अपने काम निपटाकर आ गयी थी और मेरे पास ही बैठ गयी थी। फिर सुनील बोला कि चलो कविता बेडरूम में चलते है, करण तुम भी आ जाओ। फिर हम तीनों बेडरूम में चले गये। अब सुनील वहाँ बेड के पास रखी कुर्सी पर बैठ गया था और कविता बेड पर बैठ गयी थी।

अब कविता ने अपने बालों को खुला कर दिया था, इस बेड पर में और कविता कई बार सेक्स कर चुके थे, लेकिन आज कुछ अजीब होने जा रहा था। अब में भी कविता के सामने बैठ गया था और सुनील के सामने देखा, तो वो हंस रहा था। अब मेरे सामने देखते ही उसने अपनी एक आँख दबा दी थी। अब में भी धीरे-धीरे खुल रहा था तो मैंने स्माइल किया और कविता को अपनी बाँहों में लेकर किस करने लगा। अब कविता भी मेरा पूरा साथ दे रही थी, फिर पहले मैंने उसके होंठो को काफ़ी चूसा, तो वो भी मेरे होंठो को चूस रही थी और फिर मैंने उसकी जीभ को भी बहुत चूसा। अब मेरा एक हाथ कविता के बूब्स पर पहुँच चुका था। फिर मैंने ऊपर ही ऊपर किस करते हुए उसके बूब्स को काफ़ी सहलाया और फिर उसकी नाइटी को ऊपर करने लगा, तो कविता ने ही अपनी नाइटी उतार दी। अब कविता और में सुनील को बीच-बीच में देख लिया करते थे। अब उसने एक पैग बना लिया था और पी रहा था और साथ में सिगरेट भी पी रहा था, सब कुछ नॉर्मल था। अब जब भी हमारी उससे नजर मिलती थी, तो वो हंस देता था।

फिर कविता ने जैसे ही अपनी नाइटी उतारी तो मैंने उसे अपनी ब्रा भी खोल देने को कहा, तो उसने अपनी भी ब्रा खोल दी। अब मैंने उस दौरान मेरी शर्ट निकाल दी थी और शर्ट के अंदर की बनियान भी उतार दी थी और मेरी पेंट की बेल्ट भी निकाल दी थी। फिर मैंने कविता के बूब्स पकड़ लिए और उनको काफ़ी मसला। अब में अपने दोनों हाथो से उसके दोनों बूब्स मसल रहा था। अब वो अपना एक पैर मेरे पैर पर रखकर मेरी छाती पर अपना एक हाथ फैर रही थी। फिर मैंने उसके निप्पल को अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगा। अब वो आआआआाआआआआआआ की मीठी आवाज निकालने लगी थी। अब कविता मेरी पेंट का हुक खोलकर चैन खोल रही थी और फिर उसने मेरी पेंट को खोल दिया, तो मैंने अपनी पेंट को नीचे सरका दिया। फिर उसने मेरा अंडरवेयर भी सरका दिया और मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और उसके साथ खेलने लगी।

फिर मैंने सुनील को देखा, तो वो भी अपनी शर्ट निकाल चुका था। फिर मैंने कविता के बूब्स को काफ़ी चूसा। अब वो भी मेरे लंड को और मेरे लंड के नीचे के हिस्से को सहला रही थी और आआाआआ, उुउह की आवाजे निकाल रही थी। फिर मैंने उसके बूब्स को चूसना छोड़ा, तो वो खड़ी हो गयी और अपना पेटीकोट और पेंटी निकालकर मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर पहले किस करने लगी और फिर अपनी जीभ मेरे लंड और नीचे के हिस्से पर फैरने लगी और बाद में मेरा पूरा लंड अपने मुँह में ले लिया। अब उधर सुनील भी गर्म हो रहा था, अब वो भी अपना लंड अपने हाथों से सहला रहा था। अब कविता ने आगे झुककर मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया था। अब कविता की गांड सुनील के सामने थी। फिर सुनील ने कविता की गांड सहला दी और पीछे से अपनी एक उंगली कविता की चूत पर रखकर उसकी चूत को रगड़ने लगा था।

अब में कविता के सिर को पकड़कर कविता के मुँह की चुदाई कर रहा था। अब सुनील ने कविता की चूत में अपनी एक उंगली घुसा दी थी और अपनी उंगली से कविता को चोद रहा था। फिर ऐसे ही 20-25 मिनट तक यह सिलसिला चलता रहा। फिर कविता ने मेरे लंड को छोड़ दिया और बेड पर आकर सीधी लेट गयी। अब में कविता के ऊपर आ गया था और मेरा लंड कविता की चूत पर सटा दिया था और एक जोरदार धक्का दिया। अब कविता की चूत गीली हो गयी थी, अब वो अपनी कमर उठा-उठाकर झटका देने लगी थी। अब मेरा लंड पूरा कविता की चूत में पहुँच गया था। अब वो आवाजे कर रही थी आआाआ, उूउऊहह, सस्स्स्स्सस। अब उधर सुनील ने भी अपने सारे कपड़े निकाल दिए थे और अपना 6 इंच का लंड सहला रहा था, मेरा लंड 8 इंच का है। फिर कविता का ध्यान सुनील पर गया, तो कविता ने सुनील को अपने पास बुलाया और उसका लंड पकड़ लिया। अब में जोश में था, अब कविता सुनील का लंड चूसने लगी थी और अपनी कमर उठा-उठाकर झटके भी लगा रही थी। अब में भी काफ़ी जोश में था।

फिर आधे घंटे तक ऐसे ही करने के बाद हमने आसन चेंज किया और वो डॉगी स्टाइल में आ गयी। अब मैंने पीछे से कविता कि चूत में वार करना शुरू कर दिया था। अब उधर सुनील कविता के बूब्स सहला रहा था, मेरे वार इतने तेज थे की कविता पूरी हिल जाती थी और उूउउ, हाईईईईई, आआआाआ, सस्स्स्स्सस्स्स्स जैसी आवाजे कर रही थी। फिर करीब 20 मिनट तक डॉगी स्टाइल करने के बाद कविता ने मुझे लेटने को बोला और वो मेरे ऊपर आ गयी और ऊपर से झटके लगाने लगी। अब सुनील कविता की गांड देखकर थपथपा देता था। अब में और कविता दोनों अपनी चरम सीमा पर थे। फिर थोड़ी देर के बाद वो झड़ गयी, लेकिन में अभी भी अपनी मस्ती में ही था। फिर मैंने कविता को बेड के किनारे पर लिया और खड़े-खड़े वार करने लगा। अब उधर सुनील कविता के बूब्स चूसने लगा था। अब कविता सुनील के बालों में अपना हाथ फैर रही थी और बोल रही थी माई लव, माई लविंग हब्बी, यू आर ग्रेट, आई लव यू।

Loading...

फिर मैंने काफ़ी देर तक वार करने के बाद अपना पूरा स्पर्म कविता की चूत में ही उतार दिया और झुककर कविता के दूसरे बूब्स को चूसने लगा तो कविता ने मेरा सिर भी सहलाना शुरू कर दिया। फिर ऐसे ही थोड़ी देर तक रहने के बाद कविता फिर से गर्म होने लगी और उधर सुनील गर्म था तो सुनील ने मेरे जैसे ही खड़े-खड़े कविता की चूत में उसका लंड उतार दिया और वार करने लगा। अब में कविता के बूब्स को चूस रहा था और वो मेरे बाल सहलाते हुए बोल रही थी कि में बहुत खुश नसीब हूँ मुझे दो-दो प्यार करने वाले मिले है। फिर सुनील ने करीब 20-25 वार किए और फिर थोड़ी देर के बाद वो झड़ गया। फिर थोड़ी देर के बाद हम तीनों ने एक साथ बाथ लिया। फिर सुनील बाहर आकर बोला कि आज तक में तुम लोगों कई बार छुप-छुपकर प्यार करते हुए देख लिया करता था, अब आज से हम तीनों एक साथ सेक्स किया करेंगे, जब करण तुम्हें टाईम मिले। फिर हमने उस रात एक बार और सेक्स किया और सुबह भी एक राउंड हो गया और फिर में अपने घर जाकर सो गया। अब तो हम तीनों कई बार एक साथ सेक्स करते है। फिर कविता ने मुझे बताया कि अब जब सुनील और में हम दोनों सेक्स करते है, तो तब सुनील पहले से और मज़े से करते है, तुम्हारे एंटर होने से हमारी सेक्स लाईफ में भी अच्छा चेंज आया है और अब हम पहले से बहुत ज्यादा इन्जॉय करते है।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Dhoodh pilayi choot kaदीदी ने चोदना सीकाया सेसी कागनीभाई ज़ोर से चोदो ना मज़ा आ रहा है 12 sall ke bachaanti ne chodwayaNawalik.ki.chudai.hindi.kahaniall hindi sexy storyhindi story saxhindesexestoreमामी बोली कंडोम से चोद मुझेसील तोड़ी सेक्स कहानीमासूम लड़की का थोड़ा सीलhindisexstore-हिन्दी साली सेक्स एम पि 4सेकसी.कहानीहिँदीhindi sexy storyChodvani vato fota sathema ke boss ke saxy khaneBehen ke chut ka Didar ho gayaगर्भवती मौसी की गान्ड मारीऔर मैं चुदक्कड़ रांड बन गईkutta hindi sex storyहरामी चाचा hindi sex storyहिंदी सैक्स स्टोरीज़Hindi sexy stoeriपापा कमाने मे और मम्मी चुदवाने मे व्यस्तसैकसी हीनदी कहानियामोना भाभीची पुच्ची.काँमChoti behen ko nehlaya ke kiya garam sexi kahani/?__custom_css=1&kamukta sex katawww हिँदी कथा सेकस.comfree hindi sexstoryadlt.randi.bibi.ki.khani.mocichod hindsexsexkhaniचुदाई की गंदी कहानियाँबेटी पूरा मुँह खोलो कामुकताhindi sex stowww.bua ki fati bur ki cudai hot sexi stori.commaja kai badle saja mil gye sex story hindiरात मे चुपके से चोदते देकाबुआ की लड़की चुदवाती हैदीदी और माँ की एक साथ चूदाई की कहानीमुझे मेले मे चोदाSuhagrat sex storey hindibhai buahan sex kahaniyaरंडी भाभी की चुदाई कहानीसेक्स स्टोरीज हिंदी नईदो औरतों ने एक साथ चुत चोदना सिखायाdaku didi Sex kahanisexymaa ko hotal me le jakar chudi kiyaचूतड़ो की मालिशchwdai.kaa.mojaa.agar mausi ki ladki chudvana chahti haididi.ni.six.karna.sikhay.six.stori.hindiछनाल बहन कौ चौदा ईसटौरीBhai ke dosto ne randi bana di 3बहन की मक्खन जैसी चूत चौदीठंढ मे सोने के बहाने चुदायी.नशे सी सेक्सी कहानीdadisa ki sister ke Sath masti ki khaniKamukta sex maa 2019 allsexy sex story hindiSex story sadisuda ko ptakarBastcudaiबेटे ने मेरी चड्डी उतार दी उसने मुझे चोदाmanju ke hinde sex stroysab aurat chudti huigarme koy nahi tha to aakeli ladki ko soddiya desi sexलेट रिंग मे छुड़ाईमेरी माँ का भोसडाbhabi ne bacoan m choda sex storyशादीशुदा दिदि को बस मे चोदा कहानीZor se chikh nikalne wali sex hindi meभाई ने बहन बदल कर चुदाई कि